Ads (600)


मुंबई। अंधेरी पश्चिम स्थित वर्सोवा मेट्रो स्टेशन के पास स्वप्नाक्षय मित्र मंडल सार्वजनिक गणेशोत्सव मॉडल टाऊन ने इस वर्ष अपने गणपति की सजावट की थीम युवाओं के अच्छे और बुरे रूपों को दिखाने के लिए चुना है। इसके अलावा पिछले वर्ष की भांति इस वर्ष भी कागज की लुगदी से गणेश की मूर्ति बनाई गई है। तकरीबन 9 फुट की यह मूर्ति मूर्तिकार अनिल बांदेकर ने 150 किलो कागज का उपयोग कर बनाई है। यह जानकारी मंडल के प्रमुख मार्गदर्शक और मुंबई मनपा के पूर्व विरोधी दल के नेता देवेंद्र (बाला)आंबेरकर ने दी।स्वप्नाक्षय मित्र मंडळ सार्वजनिक गणेशोत्सव मॉडल टाऊन को 37 साल हो गए हैं। प्रतिवर्ष मंडल की ओर से विभिन्न डेकोरेशन के माध्यम से सामाजिक प्रबोधन करने का काम किया जाता है। इस बार युवकों के विभिन्न रूपों और स्त्री सशक्तिकरण जैसे सामाजिक बातों को गणपति के सजावट में शामिल किया गया है। इस बारे अधिक जानकारी देते हुए आंबेरकर ने बताया कि युवकों को नशा न करते हुए शिक्षा को महत्व देकर अभ्यास कर डॉक्टर, इंजीनियर, वकील, पुलिसस, वैज्ञानिक बन देश के लिए अच्छा काम करना चाहिए। साथ ही बुढ़े माँ बाप को आश्रम में न रख कर अपने साथ रखना चाहिए। देश में फैले भष्ट्राचार को नष्ट कर,परिसर स्वच्छ रखने का प्रयत्न करना आवश्यक है। यह डेकोरेशन के माध्यम से दिखाया गया है। और यह सब शेलार और दिनेश हेगडे नामक कलाकारों ने बनाया है।उन्होंने बताया कि मंडल के अध्यक्ष राजेश ढेरे,महासचिव अशोक मोरे, संजीव कल्ले हैं और मंडल की तरफ से वर्षभर सामाजिक उपक्रम चलाए जाते हैं। जिसमें होशियार विद्यार्थियों का सत्कार, गरजू विद्यार्थियों को कॉपी वितरण, रक्तदान शिविर, मेडिकल शिविर, वृक्षारोपण आदि कार्यक्रम किए जाते हैं।

Post a Comment

Blogger